[10] गर्भवती होने के लक्षण इन हिंदी | Pregnancy hone ke lakshan

प्रेगनेंसी होने के लक्षण ( Pregnancy hone ke lakshan ) :किसी भी महिला के लिए प्रेग्नेंट होना एक सुखद व रोमांचित अनुभव होता है। स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी के इस अंक में हम लेकर आए हैं अर्ली प्रेगनेंसी सिम्टम्स की जानकारी हिंदी में। कोई भी महिला अगर जानना चाहती है कि वह गर्भवती है या नहीं वह आसानी से प्रेगनेंसी टेस्ट करवा कर जान सकती हैं। गर्भवती होने पर शुरुआती लक्षण ( early pregnancy signs ) जो महिलाओं में आम दिखते हैं उनकी जानकारी सूचीबद्ध तरीके से इस लेख पर आपको पढ़ने को मिलेगी। आइए पढ़ते हैं pregnancy hone ke lakshan in Hindi

Pregnancy hone ke lakshan in Hindi | गर्भवती होने के लक्षण इन हिंदी

ज्यादातर महिला रोग विशेषज्ञों ( gynologist ) के अनुसार प्रेगनेंसी होने के लक्षण गर्भवती महिला में 5 से 6 हफ्ते बाद दिखने लगते हैं। लेकिन 5 ,6 सप्ताह से पहले भी प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षण ( early pregnancy signs in Hindi ) गर्भवती महिलाओं में देखे जा सकते हैं जिन पर ध्यान ना देने से वह लक्षण नजरअंदाज हो जाते हैं। आइए जानते हैं उन प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षण कौन-कौन से हैं ( early pregnancy signs in Hindi ):
प्रेगनेंसी होने के लक्षण
प्रेगनेंसी होने के लक्षण
  • ‌ पीरियड्स का मिस हो जाना
  • ‌ शरीर का तापमान बढ़ना
  • ‌ स्तनों में सूजन या भारी होना
  • ‌ निपल्स का रंग गहरा होना
  • ‌ मन का मिचलना या बार-बार उल्टी आना
  • ‌ शारीरिक थकान और नींद महसूस करना
  • ‌ कुछ तीखा या खट्टा खाने को जी करना ( food craving )
  • ‌ कमर या सिर पर दर्द होना
  • ‌ योनि से स्त्राव होना
  • ‌ खाने का स्वाद ना आना
ऊपर बताए गए प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षण अलग-अलग महिला में अलग अलग हो सकते हैं और यह लक्षण एक ही महिला में पहली प्रेग्नेंसी और दूसरी प्रेगनेंसी में भी अलग अलग हो सकते हैं।
आइए अब थोड़ा विस्तार में जानते हैं प्रेगनेंसी होने के लक्षण कौन-कौन से होते हैं ? और प्रेगनेंसी होने पर महिलाओं पर इन लक्षणों का क्या प्रभाव पड़ता है ?
प्रेगनेंसी होने के लक्षण इन हिंदी
प्रेगनेंसी होने के लक्षण इन हिंदी

पीरियड्स का मिस होना

प्रेगनेंसी होने के मुख्य लक्षणों में से जो लक्षण है वह है पीरियड्स का मिस होना। अगर नियमित आने वाले पीरियड्स मिस हो जाएं तो महिला को निश्चित रूप से अपना प्रेगनेंसी टेस्ट करवा लेना चाहिए क्योंकि बहुत अधिक संभावना है कि आपका टेस्ट पॉजिटिव ही आएगा।

शरीर का तापमान बढ़ना

महिला के प्रेगनेंसी होने पर उसके शरीर में कई तरह के हार्मोन बदलाव होते हैं जिसके कारण महिला के शरीर का तापमान बढ़ जाता है। तापमान बढ़ने का मुख्य कारण प्रोजेस्टेरोन हार्मोन है जो गर्भधारण के समय एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शरीर के तापमान का बढ़ना प्रेगनेंसी के लक्षणों में से सटीक लक्षण माना जाता है इसीलिए शरीर का तापमान बढ़ने पर प्रेगनेंसी टेस्ट जरूर करवा लें।

स्तनों में सूजन या भारी होना

स्तनों में सूजन या भारी होना प्रेगनेंसी होने का सामान्य लक्षण है। महिला के गर्भवती होने पर महिला के शरीर में हार्मोन के बदलाव इसकी वजह से महिला के स्तनों में सूजन या भारीपन महसूस किया जाता है। स्तनों के भारी होने के साथ-साथ कई बार स्तनों में दर्द भी महसूस होती है। यह लक्षण  प्रेगनेंसी का हो सकता है।

निप्पल का रंग गहरा होना

गर्भवती होने पर हार्मोन बदलाव के कारण महिला के निप्पल की कोशिकाओं पर भी असर पड़ता है। निप्पल के रंग पर अगर ध्यान दिया जाए तो आप देखोगे की आपके निप्पल का रंग पहले की तुलना में गहरा दिखाई देने लगता है जिसका कारण है आप प्रेग्नेंट ho skte है।

मन का मिचलना या बार-बार उल्टी aana

अक्सर देखा गया है महिलाओं की प्रेगनेंसी होने पर कई महिलाएं उल्टी की शिकायत व मन का मिचलना की शिकायत करती हैं। यह भी प्रेग्नेंट होने का लक्षण हो सकता है जो किसी महिला में दो-तीन महीने या फिर इससे ज्यादा भी दिखता है।
आप पढ़ रहे हैं Pregnancy hone ke lakshan in Hindi

शारीरिक थकान या नींद महसूस करना

प्रेगनेंसी होने के बाद महिला अक्सर सारे din thakaan और कई बार कई महिलाएं नींद भी महसूस करती है। आपके गर्भ में तैयार हो रहा भ्रूण आपके शरीर से ही हर कमी को पूरा करता है और शरीर बढ़ते child के लिए बदलाव करना शुरू कर देता है जिसके कारण प्रेग्नेंट महिला अक्सर थकान महसूस करती है कई बार महिला का ब्लड प्रेशर या शुगर लेवल हाई होने लगता है जो प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षणों में से एक है।

कुछ तीखा या खट्टा खाने का मन करना

हार्मोन बदलाव के कारण गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला का पसंदीदा भोजन खाने को या तीखे या खट्टे स्वाद वाले भोजन को खाने का मन करता है।

कमर या सिर पर दर्द होना

गर्भवती महिला के पेट में बढ़ रहे भ्रूण के लिए शरीर में बदलाव होते हैं बदलाव के कारण शरीर की मांसपेशियों इत्यादि पर दबाव डालता है जिससे महिला में अक्सर कमर दर्द पीठ दर्द या सिर पर दर्द की शिकायत देखी जाती है जोकि प्रेगनेंसी होने के लक्षण हो सकता है।

योनि से स्त्राव होना

प्रेगनेंसी होने पर योनि से पहले कि अपेक्षा अधिक स्त्राव होना भी प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षणों में से एक है। योनि स्राव पहले से अधिक गाढ़ा और चिपचिपा होने लगता है।

खाने का स्वाद न आना

प्रेगनेंसी होने के शुरुआती लक्षणों में से खाने का स्वाद ना आना अक्सर कई महिलाओं में देखा गया है कई बार खाने की सुगंध से उल्टी आने जैसा महसूस होने लगता है जोकि गर्भवती होने के लक्षण हो सकते हैं इसलिए यह लक्षण दिखने पर अपना प्रेगनेंसी टेस्ट करवा लेना चाहिए।
आप पढ़ रहे थे Pregnancy hone ke lakshan | Pregnancy ke lakshan in Hindi | pregnancy ke symptoms in Hindi
कृपया ध्यान दें प्रेगनेंसी होने के लक्षण के इस इस लेख में दी गई जानकारी सिर्फ़ प्रेगनेंसी के बारे में जागरूक व शिक्षित करना है। लेख में दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह या परामर्श के लिए नहीं है।
यह भी पढ़े: