[BEST 10] चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप पर शायरी | Motiyon ki mala Chhap chunav chinh Shayari

प्यारे पाठकों के आग्रह पर चुनाव शायरी के इस अंक में हम लेकर आए हैं चुनाव चिन्ह मोतियों की माला पर शायरी। इससे पहले हमने चुनाव चिन्ह किताब पर शायरी और चुनाव चिन्ह उगता हुआ सूरज  शायरी और चुनाव चिन्ह कन्नी पर शायरी भी हमारी इस वेबसाइट में डाली है। आप हमारी वह वाली शायरी भी पढ़ना चाहते हो तो लिंक पर क्लिक करें।

आइए पढ़ते हैं चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप पर शायरी।

चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप पर शायरी | Motiyon ki mala Chhap chunav chinh Shayari

गांव का मुखिया ही होता है गांव का रखवाला
इसलिए ईमानदार को चुनो
बस याद रखना चुनाव चिन्ह मोतियों की माला
Gaon ka mukhiya hi hota hai hi gaon ka rakhwala
Isliye imandar ko chuno
Bas yad rakhna chunav chinh motiyon ki mala
चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप पर शायरी
चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप पर शायरी
हर तरफ होगा विकास का बोलबाला
जीत रहा है चुनाव चिन्ह मोतियों की माला
Har taraf hoga bhi khas ka bolbala
Jeet raha hai chunav chinh motiyon ki mala
पलानी तारीख का दिन होगा
मोतियों की माला चुनाव चिन्ह होगा
Falani tarikh ka Din hoga
Motiyon ki mala chunav chinh hoga

चुनाव चिन्ह मोतियों की माला पर शायरी

गांव में होगा विकास का नया उजाला
जीत रहा है मोतियों की माला छाप वाला
Gaon mein hoga Vikas ka naya ujala
Jitne rha hai motiyon ki mala Chhap wala
खुलेगा बंद विकास का ताला
जब जीतेगा चुनाव चिन्ह मोतियों की माला
Khulega band Vikas ka tala
Jab jitega chunav chinh motiyon ki mala

चुनाव चिन्ह मोतियों की माला पर शायरी

गांव ने इस बात तय कर डाला
मुखिया बनाना है
चुनाव चिन्ह मोतियों की माला छाप वाला
Gaon ne is bar tay kar Dala
Mukhya banana hai
Chunav chinh motiyon ki mala chhap wala
हमें हमें उम्मीद है आपको चुनाव चिन्ह मोतियों की माला पर शायरी का हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आप भी अपने चुनाव चीन पर शायरी हमसे लिखवाना चाहते हो तो अपनी प्रतिक्रिया के साथ-साथ अपना चुनाव चिन्ह हमें बताएं हम आपके लिए नई शायरी लेकर आएंगे
धन्यवाद!
0 0 votes
Article Rating
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Raja jha
Raja jha
8 days ago

Angur ke guchha chunav chinh pr sayri or poetry daliye mera whats app no ho sake to bhej dijiyega 7461943982