[Top Best] देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ

गद्दारों के खिलाफ शायरी
गद्दारों के खिलाफ शायरी

Top Best देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ- ‘दुश्मन का गुणगान, शहीदों का अपमान गद्दार करते हैं, वो कुत्ते इज्ज़त से पाकिस्तान चले जाएं जो कुत्ते पाकिस्तान से प्यार करते हैं ‘

देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ का उद्देश्य पाकिस्तान को नसीहत देना है जो हर बार आतंकवाद के मुद्दे पर नंगा हुआ है। सीमा पार से गोलीबारी खून खराबा कभी घुसपैठ लेकिन पाकिस्तान के नापाक इरादे हर बार हमारे देश की सेना ने पूरे नहीं होने दिए। वो पाकिस्तान है हरकतों से अपनी बाज कहां आता है। यहां हमने पाकिस्तान के खिलाफ अपना आक्रोश व्यक्त करती कुछ देशभक्ति शायरी करने का प्रयास किया है हमें पूरी उम्मीद है आपको पसंद आएगी आइए पढ़ते हैं देशभक्ति शायरी Pakisthan Hindusthan Shayari  व इंडिपेंडेंस डे स्टेटस शायरी इन हिंदी।

देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ | Independence day Status Shayari in हिंदी | Pakisthan Hindusthan Shayari

भाई समझ कर जिस को
काटकर अपना हिंदुस्तान दिया
पनाह दी उसने आतंकवाद को
मुल्क को नाम पाकिस्तान दिया
हो रहे अल्पसंख्यकों पर अत्याचार वहाँ
हमने हर जाति हर धर्म को सम्मान दिया
भाई समझ कर जिस को
काटकर अपना हिंदुस्तान दिया
Pakisthan Hindusthan Shayari
Pakisthan Hindusthan Shayari
मस्तक है हिंदुस्तान का
कश्मीर को ज़मीन का टुकड़ा मत समझना
अब होगी जंग तो तू मिट जाएगा
पाकिस्तान!
इस बार सिर्फ़ ज़मीन का झगड़ा मत समझना
पाकिस्तान को ललकार शायरी
पाकिस्तान को ललकार शायरी
चंद कुत्तों को क्या ख़रीद लिया
तू इसे अपनी जीत समझ बैठा
पाकिस्तान ज़िंदाबाद बोलने वाले
जो कुत्ते अपने मुल्क के ना हुए
उन्हें तू अपना मीत समझ बैठा
सरहदों की रक्षा में जान लुटा देंगे
कश्मीर मांगने वालों का घर कब्रिस्तान बना देंगे
आतंक को पनाह देने वाले कान खोल सुन लें
आतंकवाद छोड़ दो वर्ना तेरा आतंकिस्तान उड़ा देंगे

देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ

कान खोल कर सुन ले पाकिस्तान
कहीं मिट ना जाए तेरा नामों निशान
शांति का संदेश दे दे कर
अब थक चुका है मेरा हिंदुस्तान
इस बार तू अगर जंग की शुरुआत करेगा
तो तुझसे गांधी नहीं भगत सिंह बात करेगा
शान-ए-कश्मीर को तो भूल ही जाना
इस बार तू अपने लाहौर को बचाना
कान खोल कर सुन ले पाकिस्तान
कहीं मिट ना जाए तेरा नामों निशान
Pakisthan Hindusthan Shayari
Pakisthan Hindusthan Shayari
सारे जहां में फैला आंतकवाद तुम्हारा
तुम जड़ हो आतंकवाद की आतंकिस्तान तुम्हारा
तुमने ही अपने मुल्क की है लिखी बरबादियाँ
ख़ून से लथपथ करी तुमने कश्मीर की वादियाँ
क्यों तुम्हारे मुल्क में हर अल्पसंख्यक हारा ?
तुम जड़ हो आतंकवाद की आतंकिस्तान तुम्हारा

देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ

गांधीगिरी बहुत हुई अब तुझे
भगतसिंहगिरी सिखाने की बारी है
कश्मीर का राग अलापने वाले
अब तेरी बचाओ बचाओ चिल्लाने की बारी है
गांधीगिरी बहुत हुई अब तुझे
भगतसिंहगिरी सिखाने की बारी है
गद्दारों के खिलाफ शायरी images
गद्दारों के खिलाफ शायरी images

Pakisthan Hindusthan Shayari

एक तरफ जहां मंदिरों में घंटी, मस्जिदों में नमाज़,
गिरजाघरों में बाइबल, गुरुद्वारों में गुरुवाणी,
कहीं गीता है, कहीं कुरान है और कहीं ग्रंथ साहिब का ज्ञान है
यह मेरा हिंदुस्तान है और दूसरी तरफ जहां चीख है, दहशत है,
ख़ौफ है, दहशतगर्दी है, खतरे में अल्पसंख्यक मज़हब
के हर इंसान है वह आंतकिस्थान तेरा पाकिस्तान है

हर जंग में उसने मुंह की खाई
हर जंग में उसने पीठ दिखाई
कायरता की मिसाल पाकिस्तान ने
हर बार गोली पीठ पर चलाई
चंद गद्दार शामिल है मुल्क से गद्दारी में
घुसपैठ यूँ ही नहीं हो जाती केसर की क्यारी में
अब के जो सीमा लांघी तो अंजाम बुरा होगा
हिंदुस्तान तैयार है ठोकने की तैयारी में
टुकड़ों पर जीने वाला मुल्क
जहान में ख़ून बहानेवाला मुल्क
करता है शांति की बड़ी-बड़ी बातें
आतंक का उगानेवाला मुल्क

Pakisthan Hindusthan Shayari | देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ

हमारा मुल्क धर्मनिरपेक्ष
तुम्हारा मुल्क सिर्फ़ मुसलमान बना
हमारा मुल्क हर मजहब के लिए जन्नत और
तुम्हारा मुल्क कब्रिस्तान बना
पहले था हिंदुस्तान
तुमने अपना हिस्सा मांगा तो भारत और पाकिस्तान बना
पाकिस्तान को ललकार शायरी
पाकिस्तान को ललकार शायरी
अल कायदा, लश्कर-ए-तैयबा,
जस-ए-मोहम्मद तुम्हारा मुसलमान बना
हमारा मुस्लिम ए आर रहमान, खुशबू मिर्ज़ा,
ए हमीद ख़्वाजा और अब्दुल कलाम बना
पहले था हिंदुस्तान
तुमने अपना हिस्सा मांगा तो भारत और पाकिस्तान बना

देशभक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ

दुश्मन का गुणगान गद्दार करते हैं
शहीदों का अपमान हर बार करते हैं
इज्ज़त से पाकिस्तान चले जाएं
जो कुत्ते पाकिस्तान से प्यार करते हैं
गद्दारों के खिलाफ शायरी
गद्दारों के खिलाफ शायरी
गांधीगिरी बहुत हुई अब हमें भगत सिंह का हिंदुस्तान चाहिए
जान की भीख मांगता घुटनों में हमें पाकिस्तान चाहिए
आतंक को पनाह देने वाले इस दहशतगर्द मुल्क का
दुनिया के नक्शे से मिटता हर नामोनिशान चाहिए
कश्मीर की चाह में ज़िंदगी पाकिस्तान हो गई
कश्मीर कश्मीर चिल्लाते रहे
ख़ुद की ज़मीन कब्रिस्तान हो गई
पाकिस्तान की बर्बादी पर शायरी
पाकिस्तान की बर्बादी पर शायरी
बड़ा निर्दयी तेरा वतन हो गया
आतंकवाद में युवा मगन हो गया
क्या सोचकर तूने पाकिस्तान बनाया
ख़ून से लाल तेरा चमन हो गया
देश भक्ति शायरी पाकिस्तान के खिलाफ एक संदेश दे रही है। हिंदुस्तान से अलग होकर पाकिस्तान ने जो फैसला लिया क्या वह सही है? शायद इस सवाल का जवाब पाकिस्तान ही दे सकता है। हमारी यह पोस्ट पाकिस्तान के खिलाफ एक नसीहत के रूप में लिखी गई है उम्मीद है आपको पसंद आएगी। यह देशभक्ति शायरी Pakisthan Hindusthan Shayari  26 जनवरी कोट्स, 15 अगस्त हिंदी कोट्स, देशभक्ति शायरी स्टेटस उम्मीद है आपको जरूर पसंद आएगी।
यह भी पढ़ें आपको पसंद आएगी