Rashtriya shayari in Hindi | Desh bhakti shayari

“हो जाऊँ शहीद मगर ज़िंदा मुझे वतन चाहिए मंजूर नहीं कोई दूसरा रंग ना कोई वस्त्र मर जाऊँ तो केवल तिरंगा मुझे कफ़न चाहिए” राष्ट्रीय शायरी | rashtriya shayari फोकस हिंदी डॉट कॉम के सभी पाठकों को हमारा जय हिंद।

rashtriya shayari in Hindi की पोस्ट में आप सबका सवागत है। प्यारे दोस्तों हमारे देश कई वीर बलिदानी हुए जिन्होंने अपने देश के लिए जान तक न्योछावर कर दी। ऐसे वीर सपूतों को वीर जवानों को हम शत शत नमन करते हैं हमारी यह पोस्ट राष्ट्रीय शायरी इन हिंदी  उन्ही राष्ट्र के अमर बलिदानियों को समर्पित है।

इस पोस्ट में हम लेकर आए हैं राष्ट्रीय एकता पर शायरी rashtriy Ekta per shayari | देशभक्ति शायरी | shayari desh bhakti, rashtriya shayari new | वतन शायरी watan शायरी | देशभक्ति शायरी इमेज | desh bhakti shayari image | जोशीली देशभक्ति शायरी | देशभक्ति राष्ट्रीय शायरी | Desh bhakti rashtriya shayari image हमें उम्मीद है आप सब को जरूर पसंद आएगी। तो आइए दोस्तों पढ़ते हैं दमदार 21 राष्ट्रीय शायरी इन हिंदी:

[Top 21] Rashtriya Shayari in Hindi | दमदार 21 राष्ट्रीय शायरी इन हिंदी | Desh bhakti Rashtriya Shayari

अपने राष्ट्र की हिफाज़त के लिए मर मिटेंगे
अगर जान भी देनी पड़ी तो पीछे नहीं हटेंगे
कुर्बान कर देंगे सब कुछ इस हिंद की खातिर
जो हाथ उठा इसकी ओर वो हाथ धड़ से कटेंगे
दमदार 21 राष्ट्रीय शायरी इन हिंदी
दमदार 21 राष्ट्रीय शायरी इन हिंदी
हमारा राष्ट्र भारत जहां में सबसे प्यारा है
हर एक भारतीय की आंखों का तारा है
यह मेरा है ना तेरा है, आधा है ना अधूरा है
हिंदू मुस्लिम सिख इसाई सब का सारा का सारा है
rashtriya shayari
Rashtriya shayari

Tiranga par shayari

हो जाऊँ शहीद मगर ज़िंदा मुझे वतन चाहिए
हिंदुस्तान से हर दरिंदा मुझे ख़तम चाहिए
मंजूर नहीं कोई दूसरा रंग ना कोई वस्त्र मुझे
मर जाऊँ तो केवल तिरंगा मुझे कफ़न चाहिए
Rashtriya Shayari image
Rashtriya Shayari image
राष्ट्र के लिए शहीदों के बलिदान को सलाम
जिन्होंने राष्ट्र हित के लिए जान कर दी कुर्बान
आओ उन वीर बलिदानियों को कर लें याद
जिन की बदौलत शान से खड़ा है हिंदुस्तान

"<yoastmark

राष्ट्रीय एकता पर शायरी Rashtriya Ekta per shayari

खुद ब खुद मौत को अपनी न्योता देगा
राष्ट्र की एकता पर जो भी नज़र डालेगा
जो भी हिंदुस्तान से टकराएगा जल्दी ही
ज़िंदगी की अपनी आखिरी सांस लेगा
rashtriya Ekta per shayari
rashtriya Ekta per shayari
भारत की अनेकता पर हमें गर्व होता है
विविधता में एकता का हमें गर्व होता है
जहां सभी धर्मों के लोग खुशी खुशी रह
सकें, हाँ भारत जैसा ही तो स्वर्ग होता है

"<yoastmark

हम एक थे एक हैं एक ही रहेंगे
राष्ट्र का अपमान हम नहीं सहेंगे
जब कभी जरूरत पड़ी तो हम
राष्ट्र की खातिर मिल कर लड़ेंगे
राष्ट्रीय एकता पर शायरी
राष्ट्रीय एकता पर शायरी

Desh bhakti shayari hindi

देशभक्ति से ऊपर कोई भक्ति हो नहीं सकती
राष्ट्र से ऊपर किसी की तख्ती हो नहीं सकती
तोड़ सके भारत की एकता और अखंडता को
दुनिया में ऐसी कोई शक्ति हो नहीं सकती
desh bhakti shayari hindi
desh bhakti shayari hindi

Desh bhakti shayari

राष्ट्र की खातिर सर्वस्व देना ही होगा
कर्ज इस माटी का चुकाना ही होगा
रहो तुम चाहे सात समुंदर पार मगर
देश अगर पुकारे तो आना ही होगा
desh bhakti shayari
desh bhakti shayari

Shayari on rashtriya Ekta in Hindi

राष्ट्रीय एकता की आओ आवाज़ लगाएँ
बच्चे बच्चे तक आओ यह बात पहुंचाएँ
जिसकी खातिर कुर्बान हुए कई वीर सपूत
मिलकर आओ वो तिरंगा झंडा फहराएँ

"<yoastmark

Rashtriya shayari new

देश की खातिर हाथों में लेकर जान रखते हैं
देश की मिट्टी का आंखों में सम्मान रखते हैं
मुल्क की आन बान और शान के खातिर
बने तिरंगा कफ़न मेरा यही अरमान रखते हैं

"<yoastmark

तिरंगे का कफ़न सबको नसीब नहीं होता
हर कोई मां भारती के करीब नहीं होता
खून का कतरा कतरा आ जाए देश के काम
हर कोई इतना खुशनसीब नहीं आता
Shayari on rashtriya Ekta
Shayari on rashtriya Ekta
देश का सर कभी झुकने नहीं देंगे
उड़ान इसकी कभी रुकने नहीं है देंगे
खाते हैं कसम इस देश की माटी की
राष्ट्र का नाम कभी डूबने नहीं देंगे
Rashtriya shayari new
Rashtriya shayari new
शान से लहराता रहे मेरे राष्ट्र का तिरंगा
गौरव बढ़ाए कलकल करती बहती गंगा
खाते हैं कसम मिलजुल कर रहेंगे हम
देश में होने ना दें फसाद ना कोई दंगा
Rashtriya shayari new 2021
Rashtriya shayari new 2021
राष्ट्र को बेहतर बनाने का प्रयास करें
हर रोज़ बेहतर करने का अभ्यास करें
मुल्क से अपने जो दुश्मन टकराए तो
आओ मिलकर उस का सर्वनाश करें
desh bhagati shayari new 2021
desh bhagati shayari new 2021

Rashtriya shayari new in hindi

भारत मां के चरणों में स्थान मिल जाए
तिरंगे की खातिर मिट्टी में जान मिल जाए
जब भी जन्म हो मेरा इस धरती पर हो
पहचान भारतीय राष्ट्र हिंदुस्तान मिल जाए
desh bhagati shayari new
desh bhagati shayari new
हर भारतीय के सीने में हिंदुस्तान बसता है
शान से लहराते तिरंगे का गुणगान बसता है
सोच समझकर टकराना हिंदुस्तानियों से
सीने में इनके गोला बारूद तमाम बसता है
Desh bhakti rashtriya shayari image
Desh bhakti rashtriya shayari image
वतन की आशिकी करके तो देखो
राष्ट्रीयता की भक्ति करके तो देखो
झुक जाएंगे सारे दुश्मन कदमों पर
एकत्र राष्ट्र की शक्ति करके तो देखो
rashtriya shayari image
rashtriya shayari image
मातृभूमि से ही सब की पहचान होती है
राष्ट्र के वीर सपूतों से राष्ट्र की शान होती है
उसको ही नसीब होता है कफ़न तिरंगा
जिसकी साँसें देश के लिए कुर्बान होती है
desh bhagti shayari image
desh bhagti shayari image

Rashtriya geet aur Shayari in hindi

राष्ट्र का गीत राष्ट्र का गान बन जाऊँ
वेद बनूं पुराण बनूं गीता का ज्ञान बन जाऊँ
देखती रह जाए दुनिया, मैं बाइबल कुरान
गुरु ग्रंथ साहिब की ज़बान बन जाऊँ
Rashtriya geet aur Shayari
Rashtriya geet aur Shayari

राष्ट्र से मोहब्बत शायरी

राष्ट्र से मोहब्बत है तो जताया करो
हम सब एक हैं दुनिया को बताया करो
जिसके लिए कुर्बान हुए कई वीर ज़वान
वह तिरंगा फक्र से यारों फहराया करो
Rashtriya geet aur Shayari
Rashtriya geet aur Shayari
तो दोस्तों आपको कैसी लगी rashtriya shayari in Hindi की लिखी हमारी यह पोस्ट। पोस्ट पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ फेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम के माध्यम से जरूर शेयर करें। hane हमारी इस वेबसाइट में आप ऐसे ही आते रहे और हम आपके लिए बेहतरीन शायरियां लेकर आते रहे आप सभी को जय हिंद! भारत माता की जय! वंदे मातरम! इंकलाब ज़िंदाबाद!
धन्यवाद 🙏
Popular Post :
Saas bahu ki shayari in hindi
Saas bahu ki shayari in hindi
Devrani jethani ki Shayari
Devrani jethani ki Shayari