21+ [Painful] पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi | पापा की याद में शायरी

पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi – सचमुच पिता उस घने पेड़ की तरह होते हैं जो शीतल छाया देते हैं। पिता अपने सुख की परवाह किए बिना अपने परिवार के लिए समर्पित होकर जिम्मेवारी निभाते हैं। लेकिन यह बात इंसान को तब समझ आती है जब उनके पिता उनसे दूर चले जाते हैं। फिर पिता के दिखाए गए रास्ते उनके बताए संस्कार और बातें सिर्फ यादें बनकर रह जाती है। उन्हें यादों को शब्दों में पिरो कर शायरी के इस अंक में मैं लेकर आया हूं पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश इन हिंदी। मुझे उम्मीद है पिता पर यह शायरी संदेश जरूर आपके दिल को छू जाएंगे। तो आइए पढ़ते हैं पिता की पुण्यतिथि पर शायरी

पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi | पापा की याद में शायरी

हर रिश्ते के बहुत इंसान मिल जाएंगे मगर
पिता एक ऐसा रिश्ता है
जो सिर्फ एक इंसान से जुड़ा होता है
पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi
पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi
पापा जी आप इस दुनिया से दूर चले गए हैं
लेकिन मेरे दिल में आप अभी भी जिंदा हो
आप की पुण्यतिथि पर आपको भावभीनी श्रद्धांजलि
Miss you always papa ji
ज़िंदगी में सब कुछ है मगर फिर भी कुछ कमी सी है
कितना भी मुस्कुरा लूँ मगर इन आंखों में नमी सी है
जब से गए हैं आप मुझे अकेला छोड़ कर पापा जी
चलती फिरती ज़िंदगी मानो थमी सी है
आप की पुण्यतिथि पर आप को अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि
I love you my loving papa
हर ग़म हर दर्द को मैं, हंसते-हंसते सह लेता हूं
दिल की बातें अपनी, अपने दिल से ही कह लेता हूं
मगर पापा जब आपकी याद आती है तो
अपनी आंखों को जी भर के रोने को कह देता हूं
पापा आप दूर क्यों चले गए?
Love you and miss you always

पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश in Hindi

बहुत किताबें पढ़ी लेकिन पापा !
जो आप ज़िंदगी का पाठ पढ़ा गए
वह किसी किताब में नहीं मिला
Miss you forever papa ji
पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश
पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश
पापा की अर्थी को जब कंधे पर उठाया
तो मानो मेरा सब कुछ खो गया
जिनके कंधे पर चढ़कर बचपन देखा था
आज उनका हाथ हमारे कंधे से दूर हो गया
पापा आप कहां चले गए मुझे अकेला छोड़कर
पापा फिर कहीं से लौट आओ ना
खेल खिलौने बचपन के फिर लाओ ना
नींद नहीं आती है अकेली रातों को
आकर मुझ को गोदी में सुलाओ ना

पापा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश शायरी  in Hindi

मतलब की इस दुनिया में टिक नहीं पाता
हाथों से ख़ुद अपनी किस्मत लिख नहीं पाता
पैरों पर खड़ा होना सिखाया है पिता जी ने
वर्ना कौड़ियों के दाम में भी मैं बिक नहीं पाता
पिताजी थे जो मेरी गलतियाँ सुधार लिया करते थे
डांट कर तो कभी प्यार से पुकार लिया करते थे
अब छोड़ गए साथ हमेशा हमेशा के लिए
वो मेरी ख़ुशी के लिए न जाने कितने ग़म उधार लिया करते थे
पापा की याद में शायरी
पापा की याद में शायरी

पापा की पुण्यतिथि पर याद शायरी संदेश इन हिंदी

होनी ने कैसी ये अनहोनी कर दी
हंसती मुस्कुराती ज़िंदगी रोनी कर दी
ना जाने ये मौत कहां से आई और दूर ले गई आपको
फूलों की राह को कांटों की बिछौनी कर गई
झेल कर खुद ग़मों को, हमें आपने हर ख़ुशी दी
ख़ुद चलकर कांटों में, फूलों से भरी हमें ज़िंदगी दी
क्यों दूर चले गए पापा याद बहुत आती है आपकी
रुला कर ही जाना था, तो क्यों मुस्कुराती ज़िंदगी दी

स्वर्गीय पिता की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि संदेश शायरी in Hindi

मेरी ज़िंदगी में महकते और
खिलखिलाते फूल कैसे खिले
इसका पता मुझे तब चला
जब एक दिन कांटों से भरे
मैंने आपके जूते पहने लिए
पिताजी की पुण्यतिथि पर संदेश शायरी in Hindi
पिताजी की पुण्यतिथि पर संदेश शायरी in Hindi
आपकी कमी को मैं हर रोज़ महसूस करता हूँ
ख़ुशी में भी अपनी में ग़म महसूस करता हूँ
आपसे मिलना अब मुमकिन नहीं पापा जी
इसीलिए आपको अपनी यादों में महसूस करता हूँ

पिताजी की पुण्यतिथि पर संदेश शायरी in Hindi

आती है आपकी याद तो मैं रो लेता हूँ
रो कर ख़ुद ही अपने आँसू धो लेता हूँ
जब नींद ना आए तो पापा आपकी तस्वीर
सिरहाने रख कर सो लेता हूँ
जब कभी आप मुझे डांटते थे तो बुरा लगता था
लेकिन आपकी डांट के बिना यह जीवन
पापा मुझे अब बहुत बुरा लगता है
फिर कहीं से मुझे डांटने आ जाओ ना पापा
स्वर्गीय पिताजी की पुण्यतिथि पर संदेश शायरी in Hindi
स्वर्गीय पिताजी की पुण्यतिथि पर संदेश शायरी in Hindi
स्वर्गीय पापा की पुण्य तिथि पर संदेश in Hindi शायरी आपको कैसी लगी ? हमें कमेंट करके जरूर बताएं।
धन्यवाद!
Advertisement