21+ Amazing सुबह की राम राम शायरी इमेज इन हिंदी | Subah ki Ram Ram shayari status image

प्यारे पाठकों राम राम शायरी की इस अंक में हम लेकर आए हैं सुबह की राम राम शायरी स्टेटस कोट्स से भरी हमारी यह पोस्ट। जो हमें पूरी उम्मीद है आपको पसंद आएगी और आप अपना स्नेह और प्यार हमारे इस पोस्ट में भी देंगे। प्यारे दोस्तों हमारी यह संस्कृति है जब भी हम एक दूसरे को मिलते तो राम-राम कहते हैं जो धीरे-धीरे लुप्त होती दिखाई दे रही है जिसके लिए हम सब जिम्मेवार।

आज भी हमारे बुजुर्ग जाओ एक दूसरे से मिलते हैं तो एक दूसरे को हेलो हाय नहीं बल्कि राम राम या जय श्री राम कहकर एक दूसरे का अभिवादन करते हैं। लेकिन पढ़े लिखे नौजवान राम राम कहने में शर्म महसूस करते हैं जो अच्छी बात नहीं। इस पोस्ट में सुबह की राम राम शायरी इमेज इन हिंदी भी आपको मिल जाएंगे तो आइए पढ़ते हैं subah ki Ram Ram shayari status image download

सुबह की राम राम शायरी | Subah ki Ram Ram shayari, status image download

इससे पहले कि आप शुरू करें
आज के शुभ काम
उससे पहले आपको
हमारी ओर से सुबह की राम राम
सुबह की राम-राम शायरी
सुबह की राम-राम शायरी
बनी रहे आपके चेहरे पर मुस्कान
सफल होए आपके आज सब काम
इसी दुआ के साथ स्वीकार करो
हमारी ओर से सुबह की राम राम

सुबह की राम राम शायरी इमेज इन हिंदी

गुज़रे आप का दिन मुस्कुराते हुए
खुशियों के गीत गुनगुनाते हुए
बन जाए सब बिगड़े काम आपके
बस चुटकियाँ बजाते हुए
सुबह की राम राम जी !
सुबह की राम-राम शायरी इमेज इन हिंदी
सुबह की राम-राम शायरी इमेज इन हिंदी
सुबह उठते ही अपने दो काम
पहला प्रभु के चरणों में प्रणाम
दूसरा आप को कहना राम-राम!

Subah ki Ram Ram shayari image in Hindi

जीवन में मत होना कभी परेशान
बस प्रभु श्री राम का रखना मन में ध्यान
हर समस्या का हो जाएगा जल्द समाधान
Subah ki Ram Ram ji
सुबह की राम-राम शायरी इमेज
नए पुल नया पैग़ाम दे आपको
छू लो आप ऊंचे नील गगन को
हर नई सुबह नई उड़ान दे आपको
सुबह की राम राम जी आपको

सुबह की राम राम शायरी

सोचा प्यारे लोगों को याद करते हुए
प्यारी सुबह की शुरुआत करते हैं
प्यारे लोगों से याद आया
आप से राम राम कहने की शुरुआत करते हैं
अनपढ़ लोगों से ही हमारी संस्कृति सलामत है
वरना पढ़े-लिखे लोग तो माथे पर टीका लगाना,
चोटी रखना, धोती पहनना तो दूर
राम राम कहना भी शर्म समझते हैं
Subah ki Ram Ram shayari image in Hindi
Subah ki Ram Ram shayari image in Hindi

सुबह की राम राम शायरी इमेज

बहारें लेकर आए हर सुबह का उजाला
हर दिन हो नई नई मुस्कुराहटों वाला
सुबह की राम राम के साथ करते हैं दुआ
खोल दे प्रभु श्री राम आपकी खुशियों का ताला
Good morning
फूलों से सीखो हरदम महकना
चिड़ियों से सीखो हरदम चहकना
जिसके आते ही मिट जाता है अंधेरा
उस सूरज से सीखो हरदम चमकना
सुप्रभात एवं सुबह की राम राम जी

सुबह की राम राम शायरी स्टेटस कोट्स इन हिंदी

कांटो के बीच में रहकर भी फूल महकता है
इसीलिए कठिनाइयों से घबराना मत
कठिनाइयों को सहने वाला ही
एक दिन कामयाब होकर महकता है
सुबह की राम राम मित्रों
सुबह सुहानी हो जाती है
मुस्कुराहटों की कहानी हो जाती है
सुबह-सुबह कहिए राम-राम
राम नाम से ख़ूबसूरत जिंदगानी हो जाती

Subah ki Ram Ram shayari status quotes in Hindi

सुबह की शुरुआत सकारात्मकता से करते हैं
राम नाम है सब खुशियों की खान
आप हमें राम राम कहिए हम आप को कहते हैं
ना हेलो कहो ना हाय कहो
जब भी मिलो किसी से
तो उसे हाथ जोड़ कर राम-राम कहो

प्रातः की राम राम शायरी स्टेटस कोट्स इन हिंदी

अच्छी बातें कहने वाले और लिखने वाले
बहुत मिल जाएंगे लेकिन
उन अच्छी बातों को अमल करने वाले कम ही मिलेंगे
प्रातः की राम-राम
आपके चेहरे पर मुस्कान बहुत अच्छी लगती है
इसलिए हमेशा खिलखिला कर मुस्कुराते रहिए
सुप्रभात एवं राम राम जी
Subah ki Ram Ram shayari image
Subah ki Ram Ram shayari image
कुछ इस कदर बसे हो आप मेरे दिल में
सोने से पहले भी तुम याद आते हो
और जागते ही सबसे पहले तुम याद आते हो
सुबह की राम-राम आपको

राम राम शायरी स्टेटस कोट्स

हे! मेरे राम, मेरे अपनों को दुआओं से भरा पैगाम देना
जो वो मांगे वो खुशियां तमाम देना
ग़म ना आए कभी उनकी ज़िंदगी में
हर वक्त उनके चेहरे पर मुस्कान देना
सुप्रभात एवं सुबह की राम-राम
चेहरे पर हमेशा ऐसी मुस्कान रखिए
कि हर कोई पूछे! इस मुस्कान का राज़ क्या है
सुबह की राम राम जी

Subah ki Ram Ram shayari status

ख़ूबसूरत सुबह और ख़ूबसूरत हो जाती है
जब राम का नाम लेकर सुबह की शुरुआत होती है
आपको हमारी ओर से सुबह की राम राम जी
सुबह की राम राम शायरी स्टेटस कोट्स कि हमारी पोस्ट को जरूर पसंद आई होगी प्रभु श्री राम आपके हर काम पूरे करें इसी दुआ के साथ हमारी राम राम शायरी इमेज क्या पोस्ट पढ़ने के लिए आप सब का बहुत-बहुत
धन्यवाद!
यह भी पढ़ें:
Advertisement