[TOP] 30+ विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी

www.focushindi.com के सभी पाठकों का विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी की पोस्ट में स्वागत है। इस पोस्ट में हम लेकर आए हैं धोखा पर आधारित शायरी। दोस्तों यह सच है धोखा खाने से इंसान को जल्दी समझ आती है। इसीलिए धोखा खाया इंसान ज्यादा समझदार होता है। धोखा खाया इंसान या तो निखर जाता है या बिखर जाता है यह सच्चाई है। तो चलिए इसी टूटे विश्वास पर हम अपना अनुभव धोखा शायरी हिन्दी के माध्यम से आप तक पहुँचाते:

विश्वास पर धोखा शायरी

धोखा खाए इंसान को टूटने के लिए नहीं बल्कि
खुद को समेटने के लिए हिम्मत चाहिए . . !!

विश्वास पर धोखा शायरी
विश्वास पर धोखा शायरी
धोखा देने वाले इंसान को दोबारा मौका देना
खुदकुशी करने जैसा है . . !!
हम ज़िंदा है या मुर्दा
ये समझने में धोखा खा जाती है
मौत अक्सर हमारे पास से होकर गुजर जाती है . . !!
धोखा शायरी हिन्दी
धोखा शायरी हिन्दी
उसने मुझे धोखा दिया तो क्या हुआ
बुजुर्ग कहते हैं धोखा खाने से इंसान को
जल्दी अकल आती है . . !!
विश्वास धोखा शायरी हिन्दी
विश्वास धोखा शायरी हिन्दी
बादाम खाने से अकल आए गारंटी नहीं
मगर धोखा खाने से अकल आने की गारंटी है . . !!
विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी
विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी
वो जाते बार कह गए अपना ख़्याल रखना
मगर यह नहीं बताया ख़्याल किसके लिए रखना . . !!
जो इंसान बाहर की चीजों को धो कर नहीं खाता है
वो ही अक्सर धोखा खाता है . . !!

 

धोखा देने वाला हमें धोखा तभी देता है
जब हम उसे खुद मौक़ा देते हैं . . !!
धोखा, फरेब, मक्कारी ना जाने क्या-क्या
सिखा गई हमको दोस्तों की यारी ना जाने क्या-क्या . . !!
इस इश्क में ही कहीं खोट है
अब हर शख़्स तो धोखेबाज नहीं हो सकता . . !!
धोखा हिन्दी शायरी
धोखा  हिन्दी शायरी

अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी

लगता है कोई धोखा खाने वाला हूँ
किसी ने बताया मेरे अपने मेरी तारीफ़ कर रहे थे . . !!
धोखा देने वाली शायरी
धोखा देने वाली शायरी
धोखा खाने से अकल आती है और
मुझे अकलमंद बनाने की सारी ज़िम्मेदारी
मेरे अपनों ने उठा रखी है . . !!
dhokha shayari hindi
dhokha shayari hindi
सब पूछते हैं तूने लिखना कैसे सीखा?
अब क्या बताऊँ धोखा खाया हुआ इंसान
क्या क्या नहीं सीख जाता . . !!
खुद को ही धोखे में रखा है उसने
जो सोचता है मेरे बिना यह दुनिया कुछ नहीं . . !!
धोखे से इंसान किसी का दिल तो जीत सकता है
लेकिन ईमान नहीं . . !!

विश्वास में धोखा शायरी

मौसम बदलता है तो नई बहारें लेकर आता है
जब इंसान बदलता है तो
आँसुओं की धार देकर जाता है . . !!
कुत्ता इसीलिए कुत्ता कहलाता है
क्योंकि वो वफ़ादार होता है,
धोखेबाज होता तो इंसान कहलाता . . !!
अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी
धोखा शायरी इन हिंदी
जो अपनों से दूर होने के बहाने ढूँढते थे
कोरोना ने उनका काम आसान कर दिया . . !!
अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी
अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी
इस दिल को उसने काबू कर लिया है
उस धोखेबाज को तो हम भूल भी जाते
मगर इस दिल ने उसको कबूल कर लिया है . . !!
जब ज़िंदगी से तुमने किनारा कर ही लिया है
तो मेरे दिल की ज़मीन को भी ख़ाली कर दे . . !!

विश्वास पर धोखा शायरी

धोखा देना ही गर तेरी मज़बूरी था
तो घर के आँगन में
गुलाब का फूल लगाना क्या जरूरी था . . !!
उसको भी धोखा दे गया कोई
जब पता चला कि वह गरीब है . . !!
बस इतनी खुशी है कि वह भी कोई मेरा अपना ही है
क्योंकि कोई ग़ैर धोखा दे ही नहीं सकता . . !!
वफ़ादार आज वो ही मिलेगा
जिसे धोखा देने का मौका ना मिला हो . . !!
सोच समझ कर दोस्ती करना
आजकल दुश्मन भी
दोस्ती का चोला ओढ़ कर घूमते हैं . . !!
धोखे मिलना आम बात हो गई
इसलिए टूटे-फूटे दिल से जीना सीखो
क्योंकि आजकल फटे कपड़े सील कर पहनने का नहीं
बल्कि कपड़े फाड़कर पहनने का रिवाज़ है . . !!
विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी
विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी
दोस्तों आपको विश्वास पर धोखा शायरी हिन्दी कि हमारी पोस्ट कैसी लगी हमें बताएं और अगर आपको पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ फेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम इत्यादि सोशल नेटवर्क साइट पर जरूर शेयर करें। और हमारी वेबसाइट www.focushindi.com को अच्छी-अच्छी शायरी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें ताकि आपको हमारी हर नहीं पोस्ट की नोटिफिकेशन मिलती रहे
धन्यवाद !
Related Posts :
Advertisement